Monday, 8 January 2018

कौन कहता है, ऑनलाइन पेमेंट सिक्योर है?

ऑनलाइन पेमेंट मतलब सिक्योर पेमेंट ऐसा कहा जाता है। लेकिन एटीएम पिन उड़ा कर या ओटीपी जानकर आपके खाते से पैसे उड़ाने की घटनाएं भी आम हैं। आये दिन ये खबरें आती हैं कि फलां आदमी ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार हुआ। यहीं नहीं ऑनलाइन वॉलेट भी सुरक्षित नहीं है, आपकी जरा सी लापरवाही आपकी मेहनत पर पानी फेर सकती है। अभी हाल ही में paytm वॉलेट से पैसे उड़ाए जाने की कुछ घटनाएं शामिल हैं। इसके अलावा ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करने के नाम पर भी कई धोखाधड़ी की घटनाएं होती हैं, ऐसा तब होता है जब आप किसी एजेंट के माध्यम से किसी अन्य एकाउंट में पैसे ट्रांसफर करवाते हैं। यहां एजेंट किसी और एकाउंट में पैसे ट्रांसफर करता है, बकायदा आपके मोबाइल पर इस बात का मैसेज भी आता है कि पैसे ट्रांसफर हो गया है लेकिन आप कभी ये नहीं देखते हैं कि किस एकाउंट में पैसा ट्रांसफर हुआ है। जब आपको इस ठगी का पता चलता है तो आप एजेंट के पास जाते हैं तो एजेंट का सीधा उत्तर होता है, आपने जो डिटेल दी उसके अनुसार ही उसने पैसे जमा किये हैं। ऐसे में आपके पास करने को कुछ खास नहीं बचता है। इसलिए जब भी आप किसी के एकाउंट में इन एजेंट्स के जरिये पैसे जमा करवाएं तो ध्यान दे एकाउंट होल्डर का नाम क्या डाला जा रहा है, बैंक का नाम और कोड पर भी ध्यान दें। साथ ही जो रकम ट्रांसफर करनी है उसका अमाउंट भी अवश्य देख लें। हो सके तो ट्रांसफर मेसेज आते ही जिसके एकाउंट में पैसा डाला है उससे मालूम कर लें कि सही राशि उसके एकाउंट में ट्रांसफर हुई है या नहीं, जो राशि जमा होगी उसका SMS अकॉउंट होल्डर को भी मिल जाएगा। बिना कंफेरमशन के एजेंट का काउंटर ना छोड़े।

No comments:

Post a Comment